सी. आय. पी. प्रशिक्षण से लोकली से हुये ग्लोबली

Pratibha Ukey
Posted July 10, 2019 from India
कॉलेक्टिव इम्पॅक्ट पार्टनरशिप फेलो प्रशिक्षण
कॉलेक्टिव इम्पॅक्ट पार्टनरशिप फेलो प्रशिक्षण (1/2)

मैने प्रशिक्षण के पश्चात सीखी टेक्निक का उपयोग अपने काम मे किया. छोटेसे गाव मे जाकर नवं दुर्गा बचत ग्रुप नाम देकर वॉट्सअँप ग्रुप बनाया. सभी महिलाओके पास स्मार्ट फोन नही था पर धर के सदस्य के नंबर को ग्रुप से जोडा. शिवानी ग्रुप के सदस्य की लडकी फटाफट ग्रुप के अपडेट्स डालती है. जिससे सभी सदस्य को जानकारि मिलती है. किसने बैठक मे बचत की, कर्जा वापस किया, उनकी उपस्थिती की जाणकारी होती है, जिससे ग्रुप के प्रॉब्लेम दूर हो रहे है. महिलाये स्मार्ट फोन पर काम करणा धर मे बच्चो से सिख रही है सब खुद का फोन लेने की तै यारी मे है. इस ग्रुप  की सफलता से प्रेरीत होकर अन्य गाव की महिलाये टेक्निक सीखने की मांग की है. 

Comments 3

Log in or register to post comments
Stella Paul
Jul 11
Jul 11

Dear Savitatai
Your belief in digital technology is an inspiration. Your aim to digitally connect women of villages in your area through smartphone is great. Please keep following your dream and sharing your stories of success. I will always cheer for you and support you!

Pratibha Ukey
Jul 12
Jul 12

I am pratibha not savita

Jill Langhus
Jul 12
Jul 12

Hi Pratibha,

Welcome back, dear:-) Thanks for sharing your lovely photos and update. I wish you much continued success in your training. I'm looking forward to seeing more updates from you.

Hope you have a great weekend:-)

Related Stories

Anum Shakeel
Michael Abdullahi
Michael Abdullahi